प्रेम और सत्य एक ही सिक्के के दो पहलू हैं....मोहनदास कर्मचंद गांधी...........मुझे मित्रता की परिभाषा व्यक्त करने की आवश्यकता नहीं है, क्योंकि मैंने ऐसा मित्र पाया है जो मेरी ख़ामोशी को समझता है

Friday, September 28, 2012



छोटे बच्‍चों के लिए छोटी छोटी कविताओं की छोटी सी पुस्‍तक....
सूरज एक सितारा है/बाल कविताएं : दीनदयाल शर्मा/
रेखांकन : हरीश जे थानवी/
पृष्‍ठ 20/द्वितीय जनसंस्‍करण 2012/
मूल्‍य : 10.00 रुपये/
बोधि प्रकाशन, जयपुर/
संपर्क: 8290034632

2 comments:

  1. बहुत-बहुत बधाई एवं शुभकामनाएँ
    :-)

    ReplyDelete
    Replies
    1. धन्यवाद ..रीना मौर्या जी...

      Delete

हिन्दी में लिखिए